मुख्य समाचार:

Gold: सोने के लिए अप्रैल सहित ये 3 महीने ‘अच्छे दिन’; FY20 में 34% रिटर्न देने के बाद भी जारी रहेगी तेजी

पिछला वित्त वर्ष सोने के निवेशकों के लिए शानदार रहा है. एक वित्त वर्ष में सोने ने करीब 34 फीसदी रिटर्न दिया है.

April 3, 2020 1:38 PM
Gold, Gold return history, gold return chart, FY20 for gold return, gold prices update, yellow metal, safe heaven, invest in gold, gold outlookपिछला वित्त वर्ष सोने के निवेशकों के लिए शानदार रहा है. एक वित्त वर्ष में सोने ने करीब 34 फीसदी रिटर्न दिया है.

पिछला वित्त वर्ष सोने के निवेशकों के लिए शानदार रहा है. एक वित्त वर्ष में सोने ने करीब 34 फीसदी रिटर्न दिया है. दूसरे सभी एसेट क्लास के मुकाबले यह सबसे अच्छा रिटर्न है. एक्सपर्ट इतनी तेजी के बाद भी सोने को लेकर पूरी तरह से पॉजिटिव हैं. उनका कहना है कि पिछले कई साल कि हिस्ट्री देखें तो अप्रैल सोने की कीमतों के लिए सबसे अच्छे महीनों में शामिल दिन होते हैं. जुलाई और अगस्त में भी सोने में ज्यादातर साल तेजी ही रही है. इस साल भी अप्रैल से लेकर अगले कुछ महीनों यही ट्रेंड दिख रहा है. सिर्फ अप्रैल में ही सोने के के भाव में 2 फीसदी से ज्यादा तेजी आ सकती है और यह 45 हजार प्रति 10 ग्राम का भाव छू सकता है. वहीं अगस्त तक यह 46 हजार तक जा सकता है.

2011 से 2019: हर साल सोने का ट्रेंड

Source: Kedia Advisory

चार्ट में साफ है कि ज्यादातर साल में अप्रैल के दौरान सोने ने अच्छा रिटर्न दिया है. 2013 और 2019 में ही इस दौरान निगेटिव रिटर्न मिला था. लेकिन ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि सोने के दाम उसके पहले बहुत ज्यादा चढ़ चुके थे. वहीं, इसके अलावा ज्यादातर साल में जुलाई और अगस्त के दौरान सोने की कीमतों में तेजी आई. अगस्त 2011 में 17 फीसदी तो अगस्त 2013 में 24 फीसदी तेजी आई. जुलाई में भी तकरीबन हर साल पॉजिटिव रिटर्न मिला है.

1 वित्त वर्ष में 34 फीसदी रिटर्न

बीते वित्त वर्ष की बात करें तो सोने में करीब 34 फीसदी या 11000 रुपये की तेजी आई है. 31 मार्च 2019 को सोना 31998 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर बंद हुआ. वहीं, 31 मार्च 2020 को सोने की क्लोजिंग 43000 रुपये के करीब हुई.

सोने में जारी रहेगी तेजी

केडिया एडवाइजरी के डायरेकटर अजय केडिया का कहना है कि सोने को लेकर इस साल सेंटीमेंट अच्छे हैं. मार्च में सोना 38500 के स्तर तक टूट गया था, लेकिन वहां से कीमतों में फिर तेजी आ गई है. इसमें मार्च अं​त में 43000 रुपये के आस पास क्लोजिंग की है. वैसे भी यह सकंट के समय सेफ हैवन है. इसमें साख का भी कोई जोखिम नहीं है. उनका कहना है कि जिस तरह से 2008 की मंदी के दौरान सोने में बड़ी गिरावट के बाद जमकर तेजी आई. वहीं स्थिति इस बार भी दिख रही है. इक्विटी मार्केट और रुपये की कमजोरी का भी फायदा इसे मिलेगा. इक्विटी में अनिश्चितता से सोने में निवेश को बढ़ावा मिलेगा. अप्रैल में सोना 45 हजार और अगले कुछ महीनों में 46 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम तक जा सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Gold: सोने के लिए अप्रैल सहित ये 3 महीने ‘अच्छे दिन’; FY20 में 34% रिटर्न देने के बाद भी जारी रहेगी तेजी

Go to Top