सर्वाधिक पढ़ी गईं

Angel Broking: एंजेल ब्रोकिंग की बाजार में कमजोर एंट्री, 10% डिस्काउंट पर शेयर हुआ लिस्ट

Angel Broking Stock Listing: एंजेल ब्रोकिंग का स्टॉक आज शेयर बाजार में लिस्ट हो गया.

October 5, 2020 10:31 AM
Angel BrokingMere exit to Chinese investors should not be used as the driver to list Indian startups abroad!

Angel Broking Stock Listing: एंजेल ब्रोकिंग की शेयर बाजार में कमजोर लिस्टिंग हुई है. कंपनी का शेयर आज 10 फीसदी डिस्काउंट के साथ बीएसई पर 275 रुपये के भाव पर लिस्ट हुआ. एनएसई पर भी शेयर 275 रुपये के भाव पर ही लिस्ट हुआ. शेयर के लिए प्राइस बैंड 306 रुपये रखा गया था और आईपीओ के जरिए एंजेल ब्रोकिंग का लक्ष्य बाजार से 600 करोड़ रुपये जुटाने की थी. इश्यू प्राइस की तुलना में शेयर की एंट्री 31 रुपये कमजोरी के साथ हुई.

कंपनी का कारोबार

एंजेल ब्रोकिंग टेक्नोलॉजी पर आधारित फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी है जो ब्रोकिंग और एडवाइजरी सेवाओं के अलावा मार्जिन फंडिंग, लोन अगेंस्ट शेयर्स और कई तरह की वित्तीय सेवाएं देती है. कंपनी के ग्राहकों की संख्या लगातार बढ़ी है. जून 2020 को खत्म तिमाही के दौरान कंपनी ने हर महीने औसतन 1,15,565 नए ग्राहक जोड़े जो वित्त वर्ष 2020 की तुलना में 147.59 फीसदी अधिक है. यह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर एक्टिव क्लाइंट के मामले में चौथी सबसे बड़ी ब्रोकर कंपनी है. एंजेल ब्रोकिंग की पहुंच देश के 1,800 शहरों और कस्बों में है. कंपनी की 110 से अधिक शाखाएं हैं.

किसके हाथ में है प्रबंधन

इस आईपीओ से जुटाए गए फंड का इस्तेमाल कंपनी अपनी कार्यशील पूंजी की जरूरत को पूरा करने और अन्य कॉरपोरेट कामों में करेगी. एंजेल ब्रोकिंग की पहुंच देश के 1,800 शहरों और कस्बों में है. कंपनी की 110 से अधिक शाखाएं हैं. आईसीआईसीआई सिक्युरिटीज, एडेलवाइस फाइनेंशियल सर्विसेस और एसबीआई कैपिटल को इस निर्गम के प्रबंधन की जिम्मेदारी दी गयी है.

49 शेयरों का था एक लॉट

यह आईपीओ निवेश के लिए 22 सितंबर से 24 सितंबर के बीच खुला था. इस आईपीओ में एक लॉट 49 शेयरों का रखा गया था. यानी कम से कम 49 शेयरों के लिए बोली लगानी थी. इसके बाद 49 के गुणक में शेयरों के लिए बोली लगाई जा सकती थी. आईपीओ में प्रमोटर्स व निवेशकों द्वारा 300 करोड़ रुपये की अपनी हिस्सेदारी बिक्री के लिए रखी गई. वहीं, इस 300 करोड़ रुपये के ताजा शेयर भी जारी किए जाएंगे.

क्या थी एक्सपर्ट की राय

सैमको सिक्योरिटीज की सीनियर रिसर्च एनालिस्ट निराली शाह के अनुसार एंजेल ब्रोंकिंग पिछले 10 साल में पहली ब्रोकिंग कंपनी है, जो आईपीओ प्लान लाई है. कंपनी में मजबूत ग्रोथ की पूरी संभावनाएं हैं. टेक्नोलॉजी बेस्ड होने के नाते कंपनी को ट्रेडिशनल ब्रोकर्स पर बढ़त है. कंपनी का कस्टमर बेस लगातार बढ़ रहा है. यह चौथी सबसे बड़ी ब्रोकिंग कंपनी है. हालांकि इश्यू का वैल्युएशन कुछ महंगा दिख रहा है. फिर भी निवेशकों को लंबी अवधि के नजरिए से इसमें निवेश की सलाह है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Angel Broking: एंजेल ब्रोकिंग की बाजार में कमजोर एंट्री, 10% डिस्काउंट पर शेयर हुआ लिस्ट

Go to Top