सर्वाधिक पढ़ी गईं

Ami Organics ने आईपीओ के लिए दोबारा सेबी के पास दाखिल किया प्रॉस्पेक्टस, तीन साल पहले सेबी ने दे दी थी मंजूरी

Ami Organics दूसरी बार पब्लिक होने की कोशिश कर रही है. करीब तीन वर्ष पहले वर्ष 2018 में सेबी के पास कंपनी ने प्रिलिमिनरी पेपर्स दाखिल किए थे और आईपीओ लांच करने के लिए सेबी की मंजूरी मिल गई थी.

June 7, 2021 2:21 PM
Ami Organics files IPO papers with SEBI firm 2nd attempt at public issue

आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए स्पेशियलिटी केमिकल्स मेकर Ami Organics ने आईपीओ लांच करने के लिए पूंजी बाजार नियामक सेबी के पास ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डीआरएचपी) फाइल किया है. प्रस्तावित पब्लिक इशू के तहत 300 करोड़ रुपये के शेयर फ्रेश इशू होंगे और 60.5 लाख शेयर वर्तमान प्रमोटरों व शेयरधारकों की तरफ से ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) के तहत इशू किए जाएंगे. 100 करोड़ रुपये तक के प्री-आईपीओ प्लेसमेंट के लिए Ami Organics बुक रनिंग मैनेजर्स से राय ले रहा है. इस इशू के लिए फिस्कल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड, अंबित प्राइवेट लिमिटेड व एक्सिस कैपिटल लिमिटेड इस इशू के रनिंग लीड मैनेजर्स हैं और लिंक इनटाइम प्राइवेट लिमिटेड इसके रजिस्ट्रार हैं. रेड हेरिंग प्रॉस्परेक्टस के जरिए ऑफर किए जाने वाले इक्विटी शेयर्स स्टॉक एक्सेंजेज पर लिस्टेड होंगे.

Delhi Unlock Process: दिल्ली में Odd-Even Formula के तहत खुले मार्केट्स और मॉल्स, मेट्रो भी 50% क्षमता के साथ दौड़ रही पटरियों पर

2018 में भी Ami Organics को मिली थी मंजूरी

Ami Organics दूसरी बार पब्लिक होने की कोशिश कर रही है. करीब तीन वर्ष पहले वर्ष 2018 में सेबी के पास कंपनी ने प्रिलिमिनरी पेपर्स दाखिल किए थे और आईपीओ लांच करने के लिए सेबी की मंजूरी मिल गई थी. हालांकि मंजूरी मिलने के बावजूद कंपनी ने आईपीओ नहीं लांच किया. कंपनी ने इशू से मिलने वाले फंड में करीब 140 करोड़ रुपये से फाइनेंशियल फैसिलिटीज का रीपेमेंट करेगी और 90 करोड़ रुपये से वर्किंग कैपिटल रिक्वायरमेंट्स के लिए फंडिंग करेगी.

भारतीय केमिकल मार्केट में 12% की ग्रोथ का अनुमान

आरती इंडस्ट्रीज, हीकल लिमिटेड, वैलिएंट ऑर्गेनिक्स, विनाती ऑर्गेनिक्स, नियूलैंड ऑर्गेनिक्स और अतुल लिमिटेड के बाद अब Ami Organics भी लिस्टेड हो सकती है, अगर इसे निवेशकों का बेहतर रिस्पांस मिलता है. इंडस्ट्री का एवरेज पीई रेशियो 44.82x है. भारतीय केमिकल मार्केट 2019 में करीब 16.6 हजार करोड़ डॉलर का था जो वैश्विक केमिकल इंडस्ट्री का करीब 4 फीसदी था. अब अनुमान है कि यह 2025 तक 12 फीसदी सीएजीआर के साथ 32.6 हजार करोड़ डॉलर तक पहुंच सकता है. इसके अलावा स्पेशियलिटी केमिकल इंडस्ट्री की बात करें तो यह घरेलू मार्केट का 47 फीसदी है जो 2025 तक 11-12 फीसदी के सीएजीआर से बढ़ सकता है.

(Article- Surbhi Jain)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Ami Organics ने आईपीओ के लिए दोबारा सेबी के पास दाखिल किया प्रॉस्पेक्टस, तीन साल पहले सेबी ने दे दी थी मंजूरी
Tags:IPO

Go to Top