मुख्य समाचार:

Airtel ने 1 साल में दिया 104% रिटर्न, AGR पर झटके के बाद भी क्यों रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा शेयर?

सुप्रीम कोर्ट से झटका खाने के बाद भी एयरटेल का शेयर आज 5 फीसदी से ज्यादा तेजी के साथ रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा.

February 14, 2020 3:30 PM
Airtel, AGR, supreme court, एयरटेल, airtel on all time high, what brokerage houses says on Airtel stocks, ARPU, telecom companies plea on AGRसुप्रीम कोर्ट से झटका खाने के बाद भी एयरटेल का शेयर आज 5 फीसदी से ज्यादा तेजी के साथ रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा.

Airtel Stocks On Record High: AGR बकाए पर टेलिकॉम कंपनियों द्वारा समय सीमा बढ़ाए जाने वाले आवेदन को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज करते हुए बकाए की रकम जमा कराने को कहा है. एजीआर बकाए पर और ज्यादा समय मांगने के लिए एयरटेल (Airtel) और वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) के अलावा टाटा टेलिसर्विसेज ने कोर्ट में याचिका डाली थी. फिलहाल सुप्रीम कोर्ट से झटका खाने के बाद जहां वोडाफोन आइडिया के शेयरों में 17 फीसदी तक गिरावट आई, वहीं, एयरटेल का शेयर आज 5 फीसदी से ज्यादा तेजी के साथ 567.40 रुपये के भाव पर पहुंच गया जो शेयर के लिए रिकॉर्ड ​हाई है. इसके साथ ही कंपनी का मार्केट कैप 3.08 लाख करोड़ के आस पास चला गया. आखिर कोर्ट से झटका खाने के बाद भी टेलिकौम कंपनी के शेयरों कमें तेजी की क्या वजह है.

एजीआर इश्यू पर टेलिकॉम कंपनियों को राहत ने मिलने से फिलहाल इस सेक्टर में अब 2 कंपनियों की ही मोनोपॉली रहने की संभावना बढ़ गई है. जियो फिलहाल एजीआर बकाए का पेमेंट पहले ही कर चुका है. वहीं, एयरटेल का बेस मजबूत होने से माना जा रहा है कि कंपनी एजीआर इश्यू से आसानी से सर्वाइव कर जाएगी. दूसरी ओर तीसरी बड़ी कंपनी वोडाफोन आइडिया की मुसीबत और बढ़ेगी. इसका फायदा एयरटेल को मिलेगा. इसी सेंटीमेंट के चलते निवेशक एयरटेल पर दांव लगा रहे हैं.

1 साल में 105% चढ़ा शेयर

सेंसेक्स 30 की बात करें तो इस साल अबतक टेलिकॉम कंपनी एयरटेल के शेयरों में सबसे ज्यादा करीब 107 अंकों यानी 23.41 फीसदी तेजी रही है. वहीं, पिछले एक साल की बात करें तो एयरटेल लॉर्जकैप शेयरों के मामले में बाजार का बादशाह साबित हुआ है. 1 साल के दौरान शेयर में करीब 104.53 फीसदी या 289 अंकों की तेजी आई है, जो लॉर्जकैप शेयरों में सबसे ज्यादा है. कंपनी का मार्केट कैप आज 3.08 लाख करोड़ पहुंच गया.

Jio से बेहतर है ARPU

एयरटेल का औसत रेवेन्यू प्रति यूजर (ARPU) 135 रुपये रहा है, जो जियो के 128.4 रुपये की तुलना मे अधिक है. कंपनी के नेटवर्क पर यूजर 13.9 जीबी डेटा हर माह इस्तेमाल कर रहा है, जो इंडस्ट्री में सबसे अधिक है. कंपनी का डेटा वॉल्यूम ग्रोथ 72 फीसदी रहा, जो जियो के लिए 40 फीसदी है. एक्सपर्ट का मानना है कि एयरटेल का रेवेन्यू ग्रोथ बेहतर है और मार्जिन में सुधार हो रहा है. बाजार में हिस्सेदारी लगातार बढ़ रही है, कंपनी की बैलेंस शीट मजबूत नजर आ रही है.

एयरटेल का बेहतर है प्रदर्शन

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल के मुताबिक एयरटेल सहित टेलिकॉम कंपनियों ने टैरिफ बढ़ाया था. एयरटेल को इसका फायदा मिल रहा है और ARPU बढ़कर 135 रुपये हो गया है. यह जियो के ARPU 128.4 रुपये से ज्यादा है. टैरिफ बढ़ाने, 4जी सब्सक्राइबर्स जोड़ने से कंपनी का एबिट भी दिसंबर तिमाही में बढ़ा है. ब्रोकरेज को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2020 और 2021 में कंपनी के रेवेन्यू और ARPU दोनों में अच्छी बढ़ोत्तरी होगी. इसमें टैरिफ बढ़ोत्तरी का बड़ा योगदान होगा.

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल के अनुसार एयरटेल का आपरेटिंग परफॉर्मेंस उम्मीद के मुताबिक रहा है. आगे वायरलेस रेवेन्यू में ग्रोथ दिख रही है. टैरिफ हाइक होने से कंपनी के एबिट में सुधार हुआ है. एयरटेल का अफ्रीका में प्रदर्शन बेहतर हुआ है. मैनेजमेंट को उम्मीद है कि टैरिफ हाइक का सही फायदा मार्च तिमाही में दिखेगा, आगे डाटा डिमांड बढ़ने से फायदा होगा. एयरटेल की बाजार हिस्सेदारी बढ़ी है, जो पॉजिटिव संकेत हैं. ब्रोकोज हाउस ने शेयर में खरीद की सलाह देते हुए 591 रुपये का लक्ष्य रखा है.

(नोट: हमने यहां जानकारी एयरटेल के तिमाही नतीजों और ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है. शेयर बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले अपने स्तर पर सलाह जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Airtel ने 1 साल में दिया 104% रिटर्न, AGR पर झटके के बाद भी क्यों रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा शेयर?

Go to Top