Adani Wilmar: 281% रिटर्न देने के बाद क्या अडानी ग्रुप स्टॉक में थम चुकी है रैली, 6 महीने में कैसे बदली कहानी?

Adani Wilmar का शेयर इसी साल फरवरी में लिस्ट हुआ था और 3 महीने के भीतर ही कंपनी ने निवेशकों का पैसा 4 गुना बढ़ा दिया.

Adani Wilmar: 281% रिटर्न देने के बाद क्या अडानी ग्रुप स्टॉक में थम चुकी है रैली, 6 महीने में कैसे बदली कहानी?
अडानी ग्रुप की एफएमसीजी कंपनी Adani Wilmar के शेयरों में आज दबाव दिख रहा है. (File)

Adani Group FMCG Company Adani Wilmar Stock Price: अडानी ग्रुप की एफएमसीजी कंपनी Adani Wilmar के शेयरों में आज दबाव देखने को मिल रहा है. हालांकि कंपनी के जून तिमाही के नतीजे उम्मीद के मुताबिक रहे हैं. मैक्रो कंडीशंस बेहतर न होने के बाद भी कंपनी ने अच्छा प्रदर्शन किया है. शेयर को लेकर ब्रोकरेज हाउस का भी कहना है कि इसमें आगे फिलहाल बहुत तेजी की उम्मीद नहीं है. शेयर में लिमिटेड तेजी आ सगकती है. वहीं एक ब्रोकरेज ने टारगेट करंट प्राइस से नीचे का दिया है. बता दें कि Adani Wilmar का शेयर इसी साल फरवरी में लिस्ट हुआ था और 3 महीने के भीतर ही कंपनी ने निवेशकों का पैसा 4 गुना बढ़ा दिया.

Adani Wilmar का जून तिमाही में मुनाफा सालाना आधार पर 10 फीसदी बढ़कर 196 करोड़ रहा है. जबकि नेट सेल्स में सालाना आधार पर 30 फीसदी ग्रोथ रही और यह 14,732 करोड़ हो गया है. कंपनी का वॉल्यूम सालाना आधार पर 15 फीसदी बढ़कर 1.19 मिलियन टन पर आ गया. EBITDA मार्जिन जून तिमाही में 3.8 फीसदी से घटकर 3.3 फीसदी हो गया है.

क्या कहना है ब्रोकरेज हाउस का

इडेलवाइस सिक्योरिटीज ने शेयर में खरीदारी की सलाह दी है, लेकिन टारगेट प्राइस में मामूली इजाफा किया है. ब्रोकरेज ने शेयर के लिए 743 रुपये का टारगेट दिया है, जबकि पहले 735 रुपये का टारगेट था. शेयर आज के कारोबार में 718 रुपये तक मजबूत हुआ था. इस लिहाज से इसमें लिमिटेड तेजी आ सकती है. ब्रोकरेज का कहना है कि कंपनी ने हर सेग्मेंट में मजबूत रेवेन्यू ग्रोथ हासिल की है. कंपनी ने उम्मीद से बेहतर रेवेन्यू ग्रोथ हासिल की और एडिबल आयल, गेहूं और राइस सेग्मेंट में मार्केट शेयर लगातार बढ़ रहा है. ब्रोकरेज का कहना है कि HORECA के लिए कोहिनूर ब्रांड जून में फिर से लॉन्च किया गया और कंज्यूमर ब्रॉन्ड को अगस्त में लॉन्च किया जाएगा. इससे कंपनी को फायदा होगा.

ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने शेयर के लिए टारगेट प्राइस 550 रुपये से बढ़ाकर 595 रुपये किया है. रेटिंग होल्ड से रिड्यूस कर दी है. करंट प्राइस के लिहाज से शेयर में 120 रुपये से ज्यादा गिरावट आ सगकती है. हालांकि ब्रोकरेज का कहना है कि एडिबल आयल में मजबूत प्रतिस्पर्धी लाभ कंपनी को पियर्स पर बढ़त दे रहा है. कंपनी को सभी 3 बिजनेस सेग्मेंट में कई तालमेल का लाभ मिलता है जो पैकेज्ड फूड के पैमाने के लिए अच्छा है.

निवेशकों ने जमकर की थी कमाई

ब्रॉन्डेड एडिबल ऑयल और पैकेज्ड फूड बनाने वाली कंपनी Adani Wilmar की शेयर बाजार में लिस्टिंग इस साल 8 फरवरी को हुई थी. Adani Wilmar ने इश्यू के लिए स्टॉक प्राइस 230 रुपये तय किया था, जबकि BSE पर स्टॉक 221 रुपये के भाव पर लिस्ट हुआ है. लेकिन बाद में इसमें तेजी आती गई. 28 अप्रैल 2022 को यह शेयर 878 रुपये के भाव पर पहुंच गया, जो इसके लिए रिकॉर्ड हाई है. इस भाव पर इश्यू प्राइस की तुलना में इसमें करीब 282 फीसदी तक रिटर्न मिला. यह बाजार में लिस्ट होने वाली अडानी ग्रुप की 7वीं कंपनी थी. हालांकि बाद में इसमें गिरावट आ गई. अभी शेयर 700 रुपये के आस पास आ गया है.

शेयर में क्यों आई थी रिकॉर्ड तेजी?

एक्सपर्ट का कहना है कि रूस और यूक्रेन के बीच जंग से दुनिया भर में कमोडिटी की कीमतों में तेजी आई थी. यूक्रेन सूरजमुखी जैसे तिलहन का सबसे बड़ा निर्यातक है. वहीं सोयाबीन की भी उस रीजन में अच्छी खासी खेती होती है. दूसरी ओर बीते दिनों इंडोनेशियाई पाम तेल निर्यात प्रतिबंध और मलेशियाई निर्यात पर टैक्स से आयल सप्लाई को लेकर चुनौतियां बढ़ गईं. इस पूरी समस्या के चलते भारत में खाद्य तेल की कीमतें आसमान पर पहुंच गईं. इससे Adani Wilmar को फायदा हुआ है. जिससे कंपनी के शेयर रॉकेट बन गए थे.

(Disclaimer: स्टॉक पर विचार या निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News