scorecardresearch

Adani Wilmar का IPO पूरी तरह सब्सक्राइब, रिटेल निवेशकों का हिस्सा 1.74 गुना भरा

Adani Wilmar का IPO दूसरे दिन यानी 28 जनवरी की शाम 4 बजे तक 105 फीसदी सब्सक्राइब हो चुका था. हालांकि QIB और NII कैटेगरी में सब्सक्रिप्शन काफी कम रहा है.

Adani Wilmar के IPO को निवेशकों का अबतक सुस्त रिस्पांस मिला है. (image: pixabay)

Adani Wilmar IPO Subscription Status: एडिबल ऑयल और दूसरे फूड प्रोडक्ट बनाने वाली अडानी ग्रुप की कंपनी अडानी विल्मर (Adani Wilmar) का IPO शुरुआत में निवेशकों के सुस्त रिस्पॉन्स के बावजूद दूसरे दिन पूरी तरह सब्सक्राइब हो गया. इश्यू के दूसरे दिन यानी 28 जनवरी को शाम 4 बजे तक यह 1.05 गुना सब्सक्राइब हो चुका था. Adani Wilmar के IPO में 31 जनवरी तक निवेश किया जा सकता है. यह साल 2022 का दूसरा IPO है और कंपनी का अपने IPO के जरिए 3600 करोड़ रुपये जुटाने का प्लान है. कंपनी ने इसके लिए प्राइस बैंड 218-230 रुपये प्रति शेयर तय किया है.

कौन सा हिस्सा कितना भरा

Adani Wilmar ने IPO में क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (QIBs) के लिए 50 फीसदी हिस्सा रिजर्व रखा है. यह हिस्सा शाम 4 बजे तक 0.32 गुना भरा था. वहीं नॉन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए 15 फीसदी रिजर्व है और यह हिस्सा शाम तक 0.84 गुना भरा था. रिटेल निवेशकों के लिए 35 फीसदी हिस्सा रिजर्व रखा है और यह शाम 4 बजे तक 1.74 गुना भरा था. कर्मचारियों के लिए रिजर्व हिस्सा 0.14 गुना और शेयरहोल्डर्स के लिए रिजर्व हिस्सा 0.82 गुना भरा है. ओवरऑल यह इश्यू 1.05 गुना सब्सक्राइब हुआ है.

IPO के बारे में

Adani Wilmar के IPO में 1 रुपये के फेस वैल्यू पर 3600 करोड़ रुपये के फ्रेश इक्विटी शेयर जारी किए जएंगे. इस इश्यू में ऑफर फॉर सेल (OFS) नहीं होगा. पहले कंपनी ने IPO का साइज 4500 करोड़ रुपये का रखा था, लेकिन बाद में इसे घटाकर 3600 करोड़ रुपये कर दिया. कंपनी ने अपने कर्मचारियों के लिए 107 करोड़ रुपये के शेयर रिजर्व रखे हैं. उन्हें बिडिंग में 21 रुपये प्रति शेयर की छूट भी दी जा रही है.

कहां खर्च होगा फंड

DRHP के मुताबिक कंपनी 1900 करोड़ रुपए कैपिटल एक्सपेंडिचर के रूप में खर्च करेगी. 1059 करोड़ रुपए कर्ज भुगतान में खर्च करेगी, जबकि 450 करोड़ रुपए से यह रणनीतिक अधिग्रहण करेगी. Kotak Mahindra Capital, JP Morgan India, BofA Securities India, Credit Suisse Securities (India), ICICI Securities, HDFC Bank और BNP Paribas इस इश्यू के लिए बुक रनिंग लीड मैनेजर्स होंगे.

निवेश पर सलाह

Swastika Investmart Ltd. के सीनियर एनालिस्ट आयुश अग्रवाल ने शेयर में निवेश की सलाह दी है. उनका कहना है कि कंपनी के रेवेन्यू का ट्रैक रिकॉर्ड शानदार रहा है. इसने FMCG सेक्टर में अपने को बेहतर तरीके से स्थापित किया है. एडिबल आयल और पैकेज्ड फूड में कंपनी लीडिंग पोजिशन पर है. IPO का वैल्युएशन बेहतर दिख रहा है. इसे लिस्टिंग गेन और लॉन्ग टर्म दोनों लिहाज से सब्सक्राइब किया जा सकता है.

ब्रोकरेज हाउस च्वॉइस ब्रोकिंग ने सब्सक्राइब करने की सलाह दी है. ब्रोकरेज का कहना है कि एडिबल ऑयल और दूसरे फूड प्रोडक्ट के मामले में कंपनी की बाजार में स्थिति मजबूत है. रॉ मटेरियल सोर्सिंग में कंपनी की बाजार में लीडिंग पोजिशन है. मैन्युफैक्चरिंग कैपेलिटी मजबूत है. वैल्यूएशन पियर्स की तुलना में बेहतर नजर आ रहा है,

(Disclaimer: यहां स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं है. बाजार में रिस्क होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की सलाह लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News