सर्वाधिक पढ़ी गईं

रिलायंस रिटेल में मुबाडाला लगाएगी 6,247 करोड़ रु, खरीदेगी 1.4% हिस्सेदारी

रिलायंस इंडस्ट्रीज की अनुषंगी इकाइयों में मुबाडाला का यह दूसरा निवेश है.

Updated: Oct 01, 2020 8:23 PM
RIL, reliance industries ltd, mukesh ambaniFrom March lows of Rs 868, RIL shares have rallied over 165 per cent on back to back investments in digital and retail businesses

अबू धाबी स्थित सरकारी संपत्ति कोष मुबाडाला इनवेस्टमेंट कंपनी (Mubadala), रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में 6,247.5 करोड़ रुपये में 1.4 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने वाली है. रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. रिलायंस इंडस्ट्रीज की अनुषंगी इकाइयों में मुबाडाला का यह दूसरा निवेश है. इससे पहले मुबाडाला, जियो प्लेटफार्म्स में 9,093.60 करोड़ रुपये निवेश कर 1.85 फीसदी हिस्सेदारी प्राप्त कर चुकी है. रिलायंस ने एक बयान में कहा, ‘‘इस निवेश के जरिये रिलायंस रिटेल का मूल्यांकन 4.285 लाख करोड़ रुपये के पूर्व इक्विटी मूल्य के अनुरूप है.’’

3 हफ्तों में 5वां निवेश

रिलायंस रिटेल में यह बीते तीन हफ्तों में 5वां निवेश है. इससे पहले 30 सितंबर को अमेरिकी कंपनी सिल्वर लेक की को इन्वेस्टर कंपनी ने रिलायंस रिटेल में 1875 करोड़ रुपये के निवेश का एलान किया. सिल्वर लेक पहले ही रिलायंस रिटेल में 7500 करोड़ का निवेश कर चुकी है. इस तरह कंपनी ने अब तक रिलायंस रिटेल में 9375 करोड़ का निवेश कर दिया है. इससे रिलायंस रिटेल में सिल्वर लेक ग्रुप की हिस्सेदारी बढ़कर 2.13 फीसदी हो जाएगी.

30 सितंबर को ही वैश्विक निजी इक्विटी फर्म जनरल अटलांटिक ने रिलायंस रिटेल में 3,675 करोड़ रुपये निवेश का एलान किया था. केकेआर भी 5550 करोड़ रुपये का निवेश रिलायंस रिटेल में कर चुकी है. इन तीनों कंपनियों ने जियो प्लेटफार्म्स में भी निवेश किया है.

GST कलेक्शन सितंबर में 95,480 करोड़ रहा, अगस्त के मुकाबले राजस्व में इजाफा

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. रिलायंस रिटेल में मुबाडाला लगाएगी 6,247 करोड़ रु, खरीदेगी 1.4% हिस्सेदारी

Go to Top