मुख्य समाचार:

पीएनबी में 1,300 करोड़ रुपये का एक और घोटाला

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में 1,300 करोड़ रुपये के एक और घोटाले का खुलासा हुआ है, जिसके बाद बैंक को कुल 12,600 करोड़ रुपये का चूना लग गया है। यह नई धोखाधड़ी भी हीरा व्यापारी नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चोकसी से संबंधित है।

Published: February 27, 2018 3:14 PM
पंजाब नेशनल बैंक, पीएनबी, सीबीआई, पीएनबी घोटाला, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी
केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने सोमवार को कहा कि करोड़ों रुपये के घोटाले की जांच के संबंध में पीएनबी के कार्यकारी निदेशक के.वी. ब्रह्माजी राव, दो महाप्रबंधकों और एक सेवानिवृत्त अधिकारी से पूछताछ की गई है।

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में 1,300 करोड़ रुपये के एक और घोटाले का खुलासा हुआ है, जिसके बाद बैंक को कुल 12,600 करोड़ रुपये का चूना लग गया है। यह नई धोखाधड़ी भी हीरा व्यापारी नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चोकसी से संबंधित है। बैंक ने रात 11.22 बजे स्टॉक एक्सचेंज को दी जानकारी में कहा, “हम 14 फरवरी 2018 को स्टॉक एक्सचेंज को दी गई सूचना के संबंध में ही आगे बताना चाहते हैं कि बैंक का अनाधिकृत लेनदेन बढ़कर 20.42 करोड़ डॉलर हो सकता है।”

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने सोमवार को कहा कि करोड़ों रुपये के घोटाले की जांच के संबंध में पीएनबी के कार्यकारी निदेशक के.वी. ब्रह्माजी राव, दो महाप्रबंधकों और एक सेवानिवृत्त अधिकारी से पूछताछ की गई है।आयकर विभाग ने भी कहा कि उन्होंने इस घोटाले में शामिल चोकसी के 66 और बैंक खाते मिले हैं।

पीएनबी अधिकारियों से पूछताछ, 10 के खिलाफ एलओसी जारी

सीबीआई (केंद्रीय जांच ब्यूरो) ने सोमवार को पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के कार्यकारी निदेशक के. वी. ब्रह्माजी राव, दो महाप्रबंधकों और एक सेवानिवृत्त अधिकारी से 11,300 करोड़ रुपये के घोटाले के संबंध में पूछताछ की। सीबीआई के एक अधिकारी ने बताया कि एजेंसी ने राव से लगातार तीसरे दिन उसकी मुंबई शाखा में पूछताछ की। रविवार को भी राव से 8 घंटों से ज्यादा पूछताछ की गई थी। उसके साथ पीएनबी के प्रबंध निदेशक सह मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील मेहता से भी शनिवार को पूछताछ की गई थी।

जानकार सूत्र ने बताया कि सीबीआई ने जांच में शामिल नहीं होनेवाले नीरव मोदी और मेहुल चोकरी से गीतांजलि समूह के 10 से अधिकारियों के खिलाफ लुक आउट नोटिस (एलओसीज) जारी किया है। सीबीआई अधिकारियों के मुताबिक, बैंक के अंतर्राष्ट्रीय बैंकिंग खंड के महाप्रबंधक को बैंक के नोस्ट्रो खातों के जमा और निकासी की रोजाना रिपोर्ट तैयार करनी होती है। सूत्र ने बताया कि सीबीआई ने पिछले हफ्ते साइरिल अमरचंद मंगलदास के मुंबई कार्यालय की तलाशी ली थी।

सूत्र ने कहा, “नीरव मोदी के कार्यालय और ठिकानों की जांच के दौरान सीबीआई ने कई दस्तावेज कब्जे में लिया है। उन दस्तावेजों के आधार पर सीबीआई ने कानूनी फर्म की तलाशी ली तथा और अधिक दस्तावेज बरामद किए।” सूत्र का कहना है कि यह फर्म घोटाले के कुछ दिन पहले ही नीरव मोदी के साथ बैकिंग कार्य में शामिल हुआ। इससे पहले इस फर्म का नीरव मोदी के साथ कोई संबंध नहीं था।

सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने कहा, “जांच चल रही है। सीबीआई निदेशक आलोक कुमार वर्मा ने जांच अधिकारियों को निश्चित समय में जांच पूरी करने और हर संभव कदम उठाने को कहा है।” दयाल ने कहा, “उन्होंने (वर्मा) अधिकारियों को निर्देश दिया है कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाए।”

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. पीएनबी में 1,300 करोड़ रुपये का एक और घोटाला

Go to Top