सर्वाधिक पढ़ी गईं

ज्यादा सैलरी पर नए टैक्स सिस्टम में फायदा: चेक करें 13 लाख, 14 लाख और 15 लाख की इनकम पर कितनी होगी बचत

सालाना 13 लाख रुपये से अधिक सैलरी पाने वाले आयकर दाताओं को प्रस्तावित नई कर व्यवस्था में लाभ हो सकता है.

February 3, 2020 11:18 AM
new tax system, budget 2020, sallary more than 13 lakh, annual income and tax savings new system, higher salaried in new tax system, tax benefit to salaries person, new tax system in budget 2020, tax chartसालाना 13 लाख रुपये से अधिक सैलरी पाने वाले आयकर दाताओं को प्रस्तावित नई कर व्यवस्था में लाभ हो सकता है.

सालाना 13 लाख रुपये से अधिक वेतन और विभिन्न निवेश उपायों के जरिये 2 लाख रुपये तक की कटौती पाने वाले आयकर दाताओं को प्रस्तावित नई कर व्यवस्था अपनाने से टैक्स में लाभ हो सकता है. सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी है. वहीं 12 लाख रुपये से कम वेतन और 2 लाख रुपये तक की कटौती पाने वाले वेतनभोगी तबके के लिये पुरानी कर व्यवस्था ही फायदेमंद होगी. उन्हें पुरानी व्यवस्था में कम टैक्स देना होगा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को 2020-21 का आम बजट पेश करते हुये आयकर दाताओं के लिये नई 7 स्लैब वाली कर व्यवस्था का विकल्प दिया है. नई कर व्यवस्था अपनाने वालों को वर्तमान में उपलब्ध कई रियायतें और छूट उपलब्ध नहीं होगी.

उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक 5.78 करोड़ करदाताओं में से 5.3 करोड़ के करीब करदाता 2 लाख रुपये से कम की टैक्स छूट अथवा कटौती का दावा करते हैं. यह छूट मानक कटौती, भविष्य निधि, होम लोन के ब्याज, राष्ट्रीय पेंशन योजना में योगदान, जीवन बीमा प्रीमियम के भुगतान, चिकित्सा बीमा प्रीमियम आदि पर मिलने वाली कटौती के तहत उपलब्ध होती है. इसका सीधा मतलब यह निकलता है कि वास्तव में 90 फीसदी के करीब पर्सनल टैक्सपेयर्स 2 लाख रुपये से कम टैक्स कटौती का दावा करते हैं.

13 लाख, 14 लाख और 15 लाख सालाना इनकम पर कितनी बचत

सूत्रों ने बताया कि सालाना 13 लाख रुपये अथवा इससे अधिक की कमाई करने वाले व्यक्ति को प्रस्तावित नये कर ढांचे में 1.43 लाख रुपये का कर देना होगा. जबकि मौजूदा पुरानी व्यवस्था में उसकी 1.48 लाख रुपये की कर देनदारी बनेगी. इस प्रकार नई व्यवस्था में उसे 5,200 रुपये की बचत होगी. वहीं 14 लाख रुपये सालाना वेतन पर नई व्यवस्था में 10,400 रुपये और 15 लाख तथा इससे अधिक के वेतन पर 15,600 रुपये की बचत होगी. इस गणना में व्यक्तियों द्वारा 2 लाख रुपये तक की विभिन्न बचतों पर कटौती का दावा भी शामिल किया गया है.

नॉन-सैलरीड के लिए

सूत्रों ने कहा कि नॉन-सैलरीड व्यक्तियों में जिन्हें 50 हजार रुपये की मानक कटौती नहीं मिलती है. उनमें सालाना 9.5 लाख रुपये की कमाई करने वाले और 1.5 लाख रुपये तक कटौती का लाभ उठाने वाले व्यक्तियों के लिये नई कर व्यवस्था में 5,200 रुपये तक का फायदा मिल सकता है.

टैक्स में 3 नए स्लैब जोड़े गए

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नये कर ढांचे में मौजूदा 5 फीसदी, 20 फीसदी और 30 फीसदी आयकर दरों के अलावा 10 फीसदी, 15 फीसदी और 25 फीसदी के 3 नये स्लैब जोड़े हैं. दोनों ही व्यवस्थाओं में 2.5 लाख रुपये तक की आय को करमुक्त रखा गया है. हालांकि, वित्त मंत्री का कहना है कि दोनों व्यवस्थाओं में 5 लाख रुपये तक की कर योग्य आय होने पर कर नहीं देना होगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. ज्यादा सैलरी पर नए टैक्स सिस्टम में फायदा: चेक करें 13 लाख, 14 लाख और 15 लाख की इनकम पर कितनी होगी बचत

Go to Top