सर्वाधिक पढ़ी गईं

Budget 2021: वित्त मंत्री ने दिए सरकारी खर्च बढ़ाने के संकेत, अगले बजट में इकोनॉमिक ग्रोथ पर रहेगा जोर

Budget 2021: अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था 10 फीसदी की दर से सिकुड़ सकती है.

December 4, 2020 4:10 PM
budget 2021 finance minister Nirmala Sitharaman said government may increase spending to revive economy expects soon recoveryनिर्मला सीतारमण के मुताबिक बेहतर इकोमॉकि ग्रोथ के लिए वित्त वर्ष 2021-22 बहुत महत्वपूर्ण है जो अगले चार से पांच वर्षों के लिए नींव तैयार करेगा. (Image- Reuters)

Budget 2021: कोरोना महामारी के कारण भारतीय अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका लगा था और चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी में रिकॉर्ड गिरावट रही. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उम्मीद जताई है कि जल्द ही इसमें सुधार होगा. उनका कहना है कि सरकार द्वारा अधिक खर्च से चार से पांच साल में मजबूत बढ़ोतरी की नींव तैयार होगी. कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में अमेरिका के बाद सख्त लॉकडाउन के बावजूद सबसे अधिक भारत में संक्रमण के मामले सामने आए हैं.

अगला वित्त वर्ष बहुत महत्वपूर्ण

निर्मला सीतारमण ने रायटर्स के ग्लोबल इंवेस्टमेंट आउटलुक समिट 2021 में कहा कि बेहतर इकोनॉमिक ग्रोथ के लिए वित्त वर्ष 2021-22 बहुत महत्वपूर्ण है जो अगले चार से पांच वर्षों के लिए नींव तैयार करेगा. उनका मुख्य फोकस बजट पर है और इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च बढ़ाने को लेकर है. हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि वह अगले बजट में सरकारी खर्च कितना बढ़ाने का प्रस्ताव रख रही है.

अब खर्च न बढ़ाने पर होगी दिक्कत

बजट घाटे को लेकर भारत सरकार ने कोरोना महामारी के दौरान आर्थिक पैकेज ज्यादा नहीं जारी किए, जैसा कि अमेरिका, जापान और ब्रिटेन ने किया. अब सीतारमण का सुझाव है कि सरकार को ग्रोथ बढ़ाने के लिए आने वाले समय में खर्च बढ़ाना चाहिए. उनका मानना है कि अगर अब खर्च नहीं बढ़ाया गया तो महामारी के दौरान जो सावधानियां बरती गई वो बेमानी हो जाएंगी और इकोनॉमिक रिकवरी बहुत मुश्किल हो जाएगी.

वसीयत के ऊपर फैमिली ट्रस्ट का बढ़ रहा चलन, बजट से लेकर क्या है उम्मीदें

रिकवरी वैक्सीन की उपलब्धता पर निर्भर

अर्थशास्त्रियों का कहना है कि कितनी तेज रिकवरी करेगी, यह विकास और कोरोना वायरस की वैक्सीन की पर्याप्त आपूर्ति पर निर्भर करेगा. भारत ने अभी तक किसी भी कंपनी के साथ वैक्सीन खरीदने के लिए सौदा नहीं किया है लेकिन देश में ही कुछ जिन वैक्सीन का ट्रॉयल चल रहा है, मुख्य रूप से उसकी आपूर्ति पर वह निर्भर है. भारत को उम्मीद है कि उसे ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और रूस की स्पुतनिक-5 जैसी वैक्सीन मिल जाएगी.

वैक्सीनेशन के लिए फंड का अनुमान नहीं

सीतारमण ने कहा कि सरकार लॉजिस्टिक्स क्षमता को बढ़ा रही है. जैसे कि पर्याप्त कोल्ड स्टोरेज के लिए काम किया जा रहा है जिससे देश भर में लोगों को वैक्सीन की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सकेगी. वित्त मंत्री का कहना है कि वैक्सीन के लिए अब सिर्फ कुछ महीनों का ही इंतजार करना है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि सरकार को अभी वैक्सीनेशन के जरूरी फंड का अनुमान नहीं है क्योंकि यह डेवलपमेंट कॉस्ट और डोजेज पर निर्भर करेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. बजट 2021
  3. Budget 2021: वित्त मंत्री ने दिए सरकारी खर्च बढ़ाने के संकेत, अगले बजट में इकोनॉमिक ग्रोथ पर रहेगा जोर

Go to Top