सर्वाधिक पढ़ी गईं

पैसेंजर व्हीकल बिजनेस के लिए Tata Motors तलाश रही पार्टनर, PV और EV के लिए बन रही अलग यूनिट

कंपनी अगले दशक की वृद्धि के लिए तैयारी कर रही है.

Updated: Oct 25, 2020 2:17 PM
Tata Motors Actively scouting for a partner for passenger vehicle businessRevenues during the quarter were impacted by the fall in vehicle volumes. Image: Reuters

टाटा मोटर्स (Tata Motors) अपने यात्री वाहन कारोबार के लिए भागीदार की तलाश कर रही है. टाटा मोटर्स के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि कंपनी अगले दशक की वृद्धि के लिए तैयारी कर रही है. इस दौरान नई टेक्नोलॉजी, नियमनों में भारी निवेश देखने को मिलेगा. कंपनी द्वारा अपने यात्री वाहन कारोबार के लिए एक अलग इकाई बनाने की प्रक्रिया को तेजी से आगे बढ़ाया जा रहा है. साथ ही वह सक्रिय तरीके से भागीदार की तलाश में जुटी है.

इससे पहले टाटा मोटर्स के निदेशक मंडल ने इसी साल एक अलग इकाई बनाने की मंजूरी दी थी. कंपनी यह इकाई अपने यात्री वाहन कारोबार और इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) के लिए बना रही है. इस इकाई में कंपनी अपने संबद्ध कारोबार की संपत्तियां, बौद्धिक संपदा और कर्मचारियों को ट्रांसफर करेगी, जिससे एकल आधार पर इसका संचालन किया जा सके.

Hyundai Xcent भारत में हुई बंद, लेकिन अभी भी घर लाने का है मौका; जानें कैसे

कोई विशेष समयसीमा तय नहीं

टाटा मोटर्स के अध्यक्ष यात्री वाहन कारोबार इकाई (पीवीबीयू) शैलेश चंद्रा ने एक इंटरव्यू में कहा कि इस प्रक्रिया का पूरा उद्देश्य सक्रिय तरीके से भागीदार की तलाश करना है. वास्तविकता यह है कि सहयोग से हम अगले दशक के लिए क्षमता का बेहतर तरीके से दोहन कर सकते हैं. अगले दशक के दौरान नई टेक्नोलॉजी और नियमनों में भारी निवेश होगा. भागीदार के जरिये उत्पाद के जीवनचक्र को कम करने और नए उत्पादों को तेजी से पेश करने में मदद मिलेगी. इन सब के लिए भारी निवेश की जरूरत होगी. साथ ही तत्परता भी महत्वपूर्ण होगी. ऐसे में हम सक्रिय तरीके से भागीदार की तलाश कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि नई इकाई बनाने की प्रक्रिया चल रही है. साथ ही कंपनी एक भागीदार की तलाश भी कर रही है. इससे हम संपत्तियों और क्षमता का सृजन कर पाएंगे, जिससे दोनों को फायदा होगा. दोनों के लिए समयसीमा के बारे में पूछे जाने पर चंद्रा ने कहा कि इसके लिए कोई विशेष समयसीमा तय नहीं की गई है. उन्होंने कहा कि कारोबार को एक अलग वैध इकाई में बदलने के काम को हम एक साल में तेज करना चाहेंगे. जहां तक भागीदार का सवाल है, हम इस पर लगातार काम करते रहेंगे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. ऑटो
  3. पैसेंजर व्हीकल बिजनेस के लिए Tata Motors तलाश रही पार्टनर, PV और EV के लिए बन रही अलग यूनिट

Go to Top