मुख्य समाचार:

नया मोटर व्हीकल कानून: अब तक कटे 38 लाख चालान, सरकारी खजाने में आए 577 करोड़

यह जानकारी सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने लोकसभा में दी.

November 22, 2019 9:59 AM
Rs 577-crore challans issued so far since rollout of new Motor Vehicles Act, said nitin gadkariRepresentational Image

नया मोटर व्हीकल कानून लागू होने के बाद से अब तक लगभग 38 लाख चालान जारी किए जा चुके हैं. ये चालान कुल 577.5 करोड़ रुपये के हैं. यह जानकारी सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने लोकसभा में दी. उन्होंने कहा कि हालांकि चालान अदालतों में भेजे जा रहे हैं. अभी वास्तविक रेवेन्यु की जानकारी उपलब्ध नहीं है.

गडगरी ने एक जवाब में कहा कि NIC (वाहन, सारथी) के डाटाबेस में मौजूद जानकारी के मुताबिक, 18 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में 38,39,406 चालान जारी किए गए. ये चालान कुल 5,77,51,79,895 रुपये के रहे.

सबसे ज्यादा चालान तमिलनाडु में कटे

18 राज्यों में चंडीगढ़, पुडुचेरी, असम, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, दिल्ली, राजस्थान, बिहार, दादरा व नागर हवेली, पंजाब, गोवा, उत्तराखंड, तमिलनाडु, गुजरात, महाराष्ट्र, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा शामिल हैं. सबसे ज्यादा 14,13,996 चालान तमिलनाडु में काटे गए. वहीं सबसे कम 58 चालाना गोवा में जारी हुए.

कुछ राज्यों ने घटाया है जुर्माना

सरकार ने हाल ही में कहा है कि ऐसी कोई जानकारी नहीं है कि किसी राज्य ने मोटर व्हीकल (संशोधन) कानून, 2019 लागू नहीं किया हो. हालांकि कुछ राज्यों ने कानून के तहत उन्हें मिले अधिकारों के तहत जुर्माना घटा दिया है. नए कड़े और ज्यादा जुर्माने वाले मोटर व्हीकल नियम 1 सितंबर 2019 से प्रभावी हुए हैं.

Bullet खरीदने वालों के लिए झटका, Royal Enfield 1 अप्रैल से बंद कर सकती है 500cc बाइक बनाना

किस उल्लंघन पर कितना जुर्माना

  • नए कानून में बिना लाइसेंस के वाहनों के अनधिकृत उपयोग के लिये 1,000 रुपये तक के जुर्माने को बढ़ाकर 5,000 रुपये कर दिया गया है.
  • बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने को लेकर जुर्माना 500 रुपये से बढ़ाकर 5,000 रुपये कर दिया गया है.
  • नये नियमों में शराब पीकर गाड़ी चलाने को लेकर पहले अपराध के लिये 6 महीने की जेल और 10,000 रुपये तक जुर्माने का प्रावधान है. जबकि दूसरी बार के अपराध के लिए 2 साल तक जेल और 15,000 रुपये के जुर्माना का प्रावधान किया गया है.
  • नाबालिग द्वारा गाड़ी चलाने पर पहले जहां 500 रुपये जुर्माना था, अब इसे बढ़ाकर 10,000 रुपये कर दिया गया है.
  • सीट बेल्ट न लगाने पर जुर्मा 100 रुपये से बढ़ाकर 1000 रुपये कर दिया गया है.
  • टू-व्हीलर पर ओवरलोडिंग करने पर जुर्माना 100 रुपये से बढ़ाकर 2000 रुपये और 3 साल के लिए लाइसेंस निलंबित करने का प्रावधान है.
  • बिना इंश्योरेंस के ड्राइविंग पर जुर्माना 1000 से रुपये से बढ़ाकर 2000 रुपये कर दिया गया है.
  • सड़क नियमों के उल्लंघन पर जुर्माना 100 रुपये से बढ़ाकर 500 रुपये कर दिया गया है.
  • ओवरस्पीड पर जुर्माना 400 रुपये से बढ़ाकर एलएमवी के लिए 1000 रुपये और मीडियम पैसेंजर व्हीकल के लिए 2000 रुपये कर दिया गया है.
  • डेंजरस ड्राइविंग पर जुर्माना 1000 रुपये से बढ़ाकर 5000 रुपये कर दिया गया है.
  • गाड़ी चलाते हुए रेस लगाने पर जुर्माना 500 रुपये से बढ़ाकर 5000 रुपये कर दिया गया.
  • सवारियों की ओवरलोडिंग पर 1000 रुपये प्रति सवारी जुर्माना लगेगा.
  • इमरजेंसी गाड़ी को रास्ता न देने पर 1000 रुपये का जुर्माना लगेगा.
  • नाबालिग द्वारा अपराण करने पर माता पिता या मालिक दोषी होंगे. इसमें 25 हजार रुपये का जुर्माना और 3 साल की सजा का प्रावधान है.
  • एग्रीगेटर्स द्वारा लाइनेंस शर्त तोड़ने पर 25 हजार रुपये का जुर्माना.
  • ओवरसाइज्ड व्हीकल पर 5000 रुपये जुर्माने का प्रावधान.

Input: PTI

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. ऑटो
  3. नया मोटर व्हीकल कानून: अब तक कटे 38 लाख चालान, सरकारी खजाने में आए 577 करोड़

Go to Top