मुख्य समाचार:

EV: 1 अप्रैल से 10 लाख स्कूटर और 35 हजार कारें क्यों मिलेंगी सस्ती? जानिए पूरी स्कीम

FAME-2 योजना के तहत अप्रैल महीने से 10 लाख दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों को 20,000 रुपये और 35,000 चार पहिया वाहनों को 1.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी मिलेगी.

March 11, 2019 11:44 AM
FAME 1, FAME 2, Heavy Industry Ministry, Modi Government, electric scooter, electric cars, Modi Govt electric and hybrid vehicles policy, भारी उद्योग मंत्रालय, इलेक्ट्रिक एवं हाइब्रिड वाहनों की मैन्युफैक्चरिंग, सिआमFAME-2 योजना के तहत अप्रैल महीने से 10 लाख दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों को 20,000 रुपये और 35,000 चार पहिया वाहनों को 1.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी मिलेगी.

देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए FAME-2 योजना के तहत अप्रैल महीने से 10 लाख दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों को 20,000 रुपये और 35,000 चार पहिया वाहनों को 1.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी मिलेगी. इससे खरीदारों के लिए वाहन खरीदना सस्ता होगा.

इलेक्ट्रिक एवं हाइब्रिड वाहनों की मैन्युफैक्चरिंग और उनके तेजी से इस्तेमाल (FAME) के दूसरे फेज को मंत्रिमंडल की मंजूरी मिल चुकी है. कुल 10,000 करोड़ रुपये के खर्च वाली यह योजना तीन वर्षों के लिए शुरू की जाएगी.

भारी उद्योग मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक, इसके तहत 7090 इलेक्ट्रिक बसों (कारखाने पर दो करोड़ रुपये मूल्य तक की) पर प्रति बस 50 लाख रुपये तक का वित्तीय प्रोत्साहन दिया जा सकता है.

ई-रिक्शा: 50,000 रुपये का वित्तीय प्रोत्साहन

इसके अलावा, 5 लाख ई-रिक्शों में प्रत्येक को 50,000 रुपये का वित्तीय प्रोत्साहन देने की तैयारी है. अधिसूचना के मुताबिक कारखाने पर 15 लाख रुपये तक के 35,000 इलेक्ट्रिक कारों पर डेढ लाख रुपये की छूट मिलेगी जबकि 15 लाख रुपये मूल्य तक तक के 20,000 हाइब्रिड चौपहिया वाहनों पर 13,000 रुपये की वित्तीय मदद मिलेगी.

वाहन उद्योग ने आम चुनावों के लिए आचार संहिता लागू होने से पहले FAME-2 योजना की घोषणा करने के सरकार के कदम की सराहना की है क्योंकि और देरी का मतलब है कि इस योजना की शुरुआत नई सरकार के गठन के बाद ही होती.

FAME-2: सही समय पर दिया गया अवसर

सिआम के महानिदेशक विष्णु माथुर ने कहा, “यह सही समय पर दिया गया अवसर है क्योंकि FAME-1 और FAME-2 के बीच कोई अंतराल नहीं है.” FAME-2 योजना के तहत 2019-20 में 1,500 करोड़ रुपये, 2020-21 में 5,000 करोड़ और 2021-22 में 3,500 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. फेम 1 में 800 करोड़ रुपये की सहायता दी गई थी. इस तरह दूसरा चरण एक बड़ी उछाल है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. ऑटो
  3. EV: 1 अप्रैल से 10 लाख स्कूटर और 35 हजार कारें क्यों मिलेंगी सस्ती? जानिए पूरी स्कीम

Go to Top