सर्वाधिक पढ़ी गईं

ट्रक मालिकों के लिए अच्छी खबर, FASTag से गलती से कटा टोल फटाफट होगा रिफंड

WheelsEye ने FASTag के जरिए टोल कटौती के लिए तुरंत सूचना अलर्ट और फटाफट पैसे वापस करने की सुविधा शुरू की है.

December 17, 2020 8:24 PM
good news for truck owners, Refunds for incorrect FASTag transactions get faster, wheelseye

एक्स्ट्रा टोल कटौती झेल रहे व्हीकल ओनर्स, खासकर ट्रक मालिकों के लिए एक अच्छी खबर है. अब गलती से टोल कटने पर पैसे फटाफट वापस आ जाएंगे. भारत की सबसे बड़ी फास्टैग कंपनी WheelsEye ने FASTag के जरिए टोल कटौती के लिए तुरंत सूचना अलर्ट और फटाफट पैसे वापस करने की सुविधा शुरू की है. इसके लिए व्हील्सआई ने IDFC बैंक के साथ साझेदारी की है.

WheelsEye के अनुसार, उनका आधुनिक FASTag मैनेजमेंट सिस्टम गलत टोल कटौती का ऑटोमेटिकली पता लगाएगा और 3 से 7 दिनों के भीतर पैसा वापस करेगा. पहले शिकायत दर्ज करने के बाद ये प्रक्रिया तकरीबन 30 दिन लेती थी.

ट्रक मालिक सबसे ज्यादा परेशान

एक रिपोर्ट के अनुसार, रोजाना लगभग 70 करोड़ रुपये टोल का भुगतान FASTag से होता है, जिसमें से लगभग 60 करोड़ रुपये केवल कमर्शियल ट्रक वाहन मालिकों द्वारा दिया जाता है. WheelsEye द्वारा किए गए हालिया सर्वेक्षण में बताया गया, “रोजाना टोल भुगतान के तकरीबन 3% मामलों में टोल गलती से ज्यादा काटा गया होता है और ज्यादातर ट्रक मालिक FASTag सिस्टम की त्रुटि का खामियाजा भुगत रहे होते हैं. और तो और, परेशानी तब बढ़ जाती है, जब गलत टोल कटने पर सुनवाई भी तेजी से नहीं होती.

Hero MotoCorp के टूव्हीलर 1 जनवरी से हो रहे महंगे, 1500 रु तक बढ़ जाएंगे दाम

यह पहल करने वाली WheelsEye पहली कंपनी

IDFC बैंक के प्रवक्ता ने कहा, “डबल/गलत टोल कटौती खासकर ट्रक मालिकों के लिए अनुमान से भी अधिक बड़ी समस्या बन गई है. WheelsEye की यह पहल FASTag सिस्टम पर ट्रक मालिकों का भरोसा मजबूत करेगी और उन्हें FASTag अपनाने के लिए प्रोत्साहित भी करेगी. WheelsEye के प्रवक्ता सोनेश जैन ने कहा कि, ‘टोल कलेक्शन सिस्टम अभी भी लागू किया जा रहा है. तकनीक में छोटी मोटी गलतियां आती रहती हैं और इसका खामियाजा व्हीकल मालिकों को भुगतना पड़ता है. हमारा मुख्य लक्ष्य ट्रक मालिकों की FASTag परेशानियों को कम से कम करना है. इसके लिए हमारी टीम ने ट्रक मालिकों, NPCI और IDFC बैंक के साथ मिलकर स्वतः और जल्द पैसा वापस करने की पूरी प्रक्रिया को समेट कर सिर्फ 3-7 दिन में ला दिया है.’ अब तक किसी अन्य कंपनी ने गलत टोल कटौती की समस्या को हल नहीं किया है. इस कदम से साल 2021 के अंत तक WheelsEye के देश का सबसे बड़ा FASTag सेवा प्रदाता बनने की उम्मीद है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. ऑटो
  3. ट्रक मालिकों के लिए अच्छी खबर, FASTag से गलती से कटा टोल फटाफट होगा रिफंड

Go to Top