फोर्ड इंडिया और एम्प्लॉई यूनियन के बीच हुआ समझौता, चेन्नई प्लांट के हर पूर्व कर्मचारी को मिलेगा 62 महीने का वेतन | The Financial Express

फोर्ड इंडिया और एम्प्लॉई यूनियन के बीच हुआ समझौता, चेन्नई प्लांट के हर पूर्व कर्मचारी को मिलेगा 62 महीने का वेतन

फोर्ड इंडिया के बालसुंदरम राधाकृष्णन ने बताया कि ‘‘शुक्रवार को फोर्ड प्रबंधन और कर्मचारी संगठन के बीच मुआवजा समाधान समझौते पर हस्ताक्षर किये गए. यह एक मील का पत्थर है. इस समझौते में सभी पक्षों की जीत हुई है.’’

फोर्ड इंडिया और एम्प्लॉई यूनियन के बीच हुआ समझौता, चेन्नई प्लांट के हर पूर्व कर्मचारी को मिलेगा 62 महीने का वेतन
फोर्ड इंडिया और चेन्नई कारखाने के कर्मचारियों में मुआवजे को लेकर जारी बातचीत पूरी हुई, दोनों पक्षों ने समझौते पर हस्ताक्षर कर दिये हैं.

अमेरिकी कार निर्माता कंपनी फोर्ड ने चेन्नई के अपने कारखाने के कर्मचारियों के साथ मुआवजा को लेकर सहमति बनने का एलान किया है. फोर्ड इंडिया की ओर से जारी बयान के मुताबिक कंपनी ने करीब एक साल पहले ही भारतीय बाजार से अपने कारोबार को समेटने का ऐलान किया गया था. फोर्ड इंडिया के अधिकारी बालसुंदरम राधाकृष्णन ने बताया कि 2,592 कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठन चेन्नई फोर्ड कर्मचारी संघ और कंपनी में मुआवजे को लेकर सहमति बन गई है, इस नये मुआवजा समझौते के डॉक्यूमेंट कर्मचारी संघ को दिये जा चुके हैं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 5G सर्विस लॉन्च की, सबसे पहले इन 13 शहरों में शुरू होगी सेवा

राधाकृष्णन ने बताया कि ‘‘कल ही फोर्ड प्रबंधन और कर्मचारी संगठन के बीच मुआवजा समाधान समझौते पर हस्ताक्षर किए गए. यह एक मील का पत्थर है. इस समझौते में सभी पक्षों की जीत हुई है.’’ इस समझौते के तहत कंपनी 14 अक्टूबर को नौकरी से अलग होने वाले कर्मचारियों को पूर्व-निर्धारित राशि के अलावा एक महीने का सकल वेतन भी देगी.

फोर्ड इंडिया ने बयान में कहा कि कंपनी चेन्नई फोर्ड कर्मचारी संघ के साथ-साथ तमिलनाडु सरकार और श्रम अधिकारियों के सहयोग के लिए आभारी है. कंपनी द्वारा जारी आधिकारिक पत्र में लिखा है, “पिछले सितंबर 2021 में व्यापार पुनर्गठन की घोषणा के बाद से फोर्ड ने निष्पक्ष और उचित विच्छेद पैकेज पर बातचीत करने के लिए लगातार प्रयास किए हैं और संघ के साथ समझौता करने से खुश है.” इसके साथ ही कंपनी ने कहा, “कंपनी 130 दिनों के चालू प्रस्ताव से सर्विस के प्रति वर्ष सकल वेतन के 140 दिनों के औसत के बराबर अंतिम विच्छेद निपटान को संशोधित करेगी. अंतिम निपटान में 1.5 लाख रुपये की अतिरिक्त एकमुश्त राशि भी शामिल की जाएगी.”

दिसंबर में जारी होगी 10वीं और 12वीं के एग्जाम की डेटशीट, पूरे सिलेबस से पूछे जाएंगे प्रश्न

समझौते के तहत फोर्ड इंडिया द्वारा कारखाने के हर एक कर्मचारी को औसतन करीब 62 महीने का वेतन देगी. कंपनी में नौकरी का अंतिम दिन 30 सितंबर 2022 माना जाएगा. चेन्नई से 45 किलोमीटर दूर स्थित मरइमलाई कारखाने से आखिरी कार का उत्पादन जुलाई में हुआ था. इससे पहले फोर्ड ने सितंबर 2021 में गुजरात के सानंद और तमिलनाडु के मरइमलाई कारखानों में कारों के निर्माण को बंद करने का एलान किया था. इसके बाद साणंद प्लांट को टाटा मोटर्स की ईवी सहायक कंपनी ने खरीद लिया है. हालांकि फोर्ड को अभी तक अपने चेन्नई प्लांट के लिए कोई खरीदार नहीं मिला है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News