मुख्य समाचार:
  1. MOVE India Summit: सुजुकी अक्टूबर से शुरू करेगी 50 इलेक्ट्रिक व्हीकल की टेस्टिंग, हुंडई लाएगी तीन EVs

MOVE India Summit: सुजुकी अक्टूबर से शुरू करेगी 50 इलेक्ट्रिक व्हीकल की टेस्टिंग, हुंडई लाएगी तीन EVs

ये घोषणाएं पहले विश्व मोबिलिटी शिखर सम्मेलन के उद्घाटन अवसर पर की गईं.

September 7, 2018 2:39 PM
MOVE, first global mobility summit 2018, PM modi, suzuki motors, toyota, hundai 7-8 दिसंबर को आयोजित हो रहा है पहला विश्व ​मोबिलिटी शिखर सम्मेलन—MOVE.

सुजुकी मोटर के चेयरमैन ओसामू सुजुकी ने घोषणा की है कि कंपनी भारत में अक्टूबर से 50 इलेक्ट्रिक वाहनों की टेस्टिंग शुरू करेगी. ओसामू ने यह बयान पहले विश्व मोबिलिटी शिखर सम्मेलन के उद्घाटन अवसर पर दिया. बता दें कि आज भारत में पहले विश्व ​मोबिलिटी शिखर सम्मेलन—MOVE का आयोजन होने जा रहा है. इस दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन नीति आयोग कर रहा है.

ओसामू ने आगे कहा कि सुजुकी मोटर भारत में टोयोटा के साथ मिलकर 2020 तक पहले इलेक्ट्रिक व्हीकल लॉन्च करेगी. कंपनी का फोकस शुरुआत में हाइब्रिड और सीएनजी वाहनों के विस्तार पर होगा. यह लॉन्चिंग पूरी तरह मेक इन इंडिया के अनुरूप होगी. इस घोषणा के साथ ही ओसामू ने इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के लिए एक अच्छे गवर्नेंस और ​टिकाऊ इकोसिस्टम की अपील की.

हाइब्रिड, इलेक्ट्रिक, फ्यूल सेल और कनेक्टेड व्हीकल्स भविष्य की मोबिलिटी के चार स्तंभ: हुंडई

इस मौके पर हुंडई इंडिया के वाइस प्रे​सिडेंट चुंग इयुई सुन ने भी अपने विचार व्यक्त किए. उन्होंने कहा कि चौ​थी औद्योगिक क्रांति का दारोमदार हम पर है और हमें इस बदलाव को अपनाना चाहिए. यह बदलाव हमें पर्सनल मोबिलिटी से स्मार्ट और शेयर्ड मोबिलिटी की ओर ले जाएगा.

हुंडई मोटर्स का मानना है कि हाइब्रिड व्हीकल्स, इलेक्ट्रिक व्हीकल्स, फ्यूल सेल व्हीकल और कनेक्टेड व्हीकल्स भविष्य की मोबिलिटी के चार स्तंभ साबित होंगे. उन्होंने यह भी कहा कि हुंडई आने वाले सालों में भारत में 3 इलेक्ट्रिक व्हीकल्स लॉन्च करेगी.

टोयोटा हाइब्रिड व्हीकल्स ने रोका 9.4 करोड़ टन से ज्यादा कार्बन एमिशन

इस सम्मेलन को संबोधित करते हुए टोयोटा के ताकेशी उचियामादा ने कहा कि उनकी पहली चुनौती 21वीं सदी के व्हीकल हैं. उन्होंने बताया कि टोयोटा हाइब्रिड व्हीकल्स ने 9.4 करोड़ टन से ज्यादा कार्बन एमिशन बचाया है. उन्होंने कहा कि हालांकि हाइब्रिड व्हीकल्स को किसी भी इकोसिस्टम की जरूरत नहीं है लेकिन अभी भी इस्तेमाल हो रहे फ्यूल और कार्बन एमिशन के मोर्चे पर काम किए जाने की जरूरत है.

बने सभी मोबिलिटी को जोड़ने वाला ऐप: आनंद महिंद्रा

इस मौके पर महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने कहा कि भविष्य की जनरेशन यात्रा करने के तरीकों को बदल रही है. इसलिए हमें शेयर्ड मोबिलिटी को लेकर गंभीर हो जाना चाहिए. इस बदलाव को देखते हुए क हम एक ऐसा ऐप नहीं ला सकते, जो सभी मोबिलिटी को जोड़े. इन्क्लूसिव मल्टी मॉडल मोबिलिटी भविष्य के लिए रूपरेखा तैयार कर सकती है.

भारत भविष्य की मोबिलिटी का एक बेहतरीन उदाहरण

सम्मेलन में टाटा मोटर्स के सीईओ गुंटेर बुशेक ने कहा कि भारत विश्व की इकोनॉमीज के बीच एक चमकता सितारा होने के साथ भविष्य की मोबिलिटी का एक बेहतरीन उदाहरण भी है. बुशेक ने स्वच्छ भारत, मेक इन इंडिया जैसी स्पष्ट रणनीतियों के लिए भारत सरकार की सराहना भी की.

Go to Top