सर्वाधिक पढ़ी गईं

Chevrolet India ने 12 हजार क्रूज कारों में बदले खराब एयरबैग्स, इन कारों के मालिकों से कंपनी ने की यह अपील

Chevrolet India ने क्रूज की करीब 10 हजार गाड़ियों में फॉल्टी Takata Airbags को बदल दिए हैं और शेष ग्राहकों से जल्द से जल्द संपर्क करने का अनुरोध किया है.

Updated: Apr 13, 2021 4:56 PM
Chevrolet India says faulty Takata airbags replaced in 12 thousand Cruze unitsChevrolet India ने करीब दो साल पहले 25 फरवरी 2019 को फॉल्टी एयरबैग को बदलने का एलान किया था.

वाहन निर्माता कंपनी Chevrolet India ने जानकारी दी है कि उसने देश भर में अपनी करीब 10 हजार क्रूज सेडान कारों में फॉल्टी Takata Airbags बदल दिए हैं. अमेरिकी ऑटो निर्माता कंपनी जनरल मोटर्स (General Motors) 2009-2017 के दौरान बनी क्रूज कारों में फॉल्टी एयरबैग्स की जांच करके उन्हें बदल रही है. ऐसी करीब 10 हजार गाड़ियों के एयरबैग्स को चेक करके बदला भी जा चुका है और शेष गाड़ियों के ग्राहकों से भी इसे जल्द से जल्द बदलवाने के लिए अपील की जा रही है.
जनरल मोटर्स भारतीय बाजार से 2018 में ही एग्जिट कर चुकी है और अब सिर्फ वर्तमान ग्राहकों को आफ्टरसेल्स सर्विसेज उपलब्ध करा रही हैं. जनरल मोटर्स इंडिया भरत में बीट, सेल और क्रूज जैसी गाड़ियों की बिक्री करती थी.

Top Selling Cars in India: FY 2021 में सबसे अधिक बिकने वाली पांच कारें, मारुति सुजुकी की कारों का दबदबा कायम

फरवरी 2019 में फॉल्टी एयरबैग्स बदलने का हुआ था एलान

कंपनी ने करीब दो साल पहले 25 फरवरी 2019 को फॉल्टी एयरबैग को बदलने का एलान किया था. इसते तहत दुनिया भर से लाखों गाड़ियां कंपनी ने वापस मंगाई. इन फॉल्टी एयरबैग्स को जापाना के Takata Group ने तैयार किया था.
चेवरोलेट इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट (कॉमर्शियल ऑपरेशंस) मार्कस स्टर्नबर्ग ने कहा कि उनकी ऑफ्टर-सेल्स टीम ने ग्राहकों से संपर्क कर और निरीक्षण कर पिछले कुछ महीनों में 12 हजार से अधिक कारों में एयरबैग्स बदल दिए हैं. हालांकि उनका कहना है कि अभी भी कुछ ग्राहक लोग ऐसे हैं जिनकी गाड़ियों का परीक्षण नहीं हो सका है. अब कंपनी ऐसे सभी लोगों को जल्द से जल्द अपनी गाड़ियों का परीक्षण करवाने के लिए अपील कर रही है. कंपनी के देश भर के 134 शहरों में 160 सर्विस वर्कशॉप्स हैं.

भारत में 100 करोड़ डॉलर के निवेश का किया था एलान

2015 में जनरल मोटर्स ने भारत में मैनुफैक्चरिंग बढ़ाने और अगले पांच साल में स्थानीय स्तर पर 10 मॉडल्स का उत्पादन करने के लिए 100 करोड़ डॉलर के निवेश का एलान किया था. जनवरी 2018 में कंपनी ने नए मॉडल्स में निवेश के प्लान को कुछ समय के लिए स्थगित कर अपनी योजना को रिव्यू करने का फैसला किया और 18 मई 2018 को जनरल मोटर्स ने एकाएक भारत में अपनी गाड़ियों की बिक्री को रोकने का फैसला किया. अब कंपनी ने महाराष्ट्र के तलेगांव में स्थित अपने मैनुफैक्चरिंग प्लांट से गाड़ियों का निर्यात भी बंद कर दिया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. ऑटो
  3. Chevrolet India ने 12 हजार क्रूज कारों में बदले खराब एयरबैग्स, इन कारों के मालिकों से कंपनी ने की यह अपील

Go to Top