मुख्य समाचार:
  1. प्लास्टिक Aadhaar नहीं हैं वैलिड, UIDAI ने चेताया- प्राइवेसी पर है खतरा

प्लास्टिक Aadhaar नहीं हैं वैलिड, UIDAI ने चेताया- प्राइवेसी पर है खतरा

अगर आप प्‍लास्टिक आधार (Aadhaar) कार्ड या यूं कहें आधार स्‍मार्ट कार्ड पसंद करते हैं और इन्हें बनवाने की सोच रहे हैं तो ठहर जाएं.

April 29, 2019 2:01 PM

UIDAI alert: PVC card plastic aadhaar or aadhaar smart card is not valid 

अगर आप प्‍लास्टिक आधार (Aadhaar) कार्ड या यूं कहें आधार स्‍मार्ट कार्ड पसंद करते हैं और इन्हें बनवाने की सोच रहे हैं तो ठहर जाएं. आधार जारी करने वाली अथॉरिटी UIDAI ने ट्वीट के जरिए चेतावनी जारी की है कि प्‍लास्टिक आधार या आधार स्मार्ट कार्ड/PVC कार्ड वैलिड नहीं है. आधार कार्ड धारक के पास आया आधार लेटर/ uidai.gov.in से डाउनलोडेड आधार या mAadhaar प्रो​फाइल आधार से जुड़ी किसी भी सेवा का लाभ लेने के लिए पर्याप्त है.

प्‍लास्टिक Aadhaar कार्ड के नुकसान

फरवरी 2018 में UIDAI ने प्‍लास्टिक आधार कार्ड के नुकसान बताते हुए एक बयान जारी किया था. इस बयान में अथॉरिटी ने कहा था कि प्‍लास्टिक आधार या फिर स्‍मार्ट आधार कार्ड का इस्‍तेमाल न करें. ऐसे कार्ड से आपकी आधार डिटेल्‍स की प्राइवेसी पर खतरा है. UIDAI का कहना है कि प्‍लास्टिक आधार कार्ड कई बार काम नहीं करता है. इसकी वजह है कि प्‍लास्टिक आधार की अनऑथराइज्‍ड प्रिन्टिंग के चलते QR कोड डिस्‍फंक्‍शनल हो जाता है. साथ ही आधार में मौजूद आपकी पर्सनल डिटेल्‍स के बिना आपकी अनुमति के शेयर किए जाने का भी खतरा है.

Aadhaar में इन 70 दस्तावेजों के जरिए करा सकते हैं अपडेशन, चेक करिए पूरी लिस्ट

साधारण पेपर पर डाउनलोडेड आधार भी है वैलिड

UIDAI ने अपने बयान में इस बात पर भी जोर दिया है कि ओरिजनल आधार के अलावा एक साधारण पेपर पर डाउनलोड किया हुआ आधार और एमआधार पूरी तरह से वैलिड हैं. इसलिए आपको स्‍मार्ट आधार के चक्‍कर में पड़ने की जरूरत नहीं है. यहां तक कि आपको कलर्ड प्रिन्‍ट की भी जरूरत नहीं है. साथ ही आपको अलग से आधार कार्ड के लैमिनेशन या प्‍लास्टिक आधार कार्ड की जरूरत नहीं है. अगर आपका आधार खो गया है तो आप इसे मुफ्त में https://eaadhaar.uidai.gov.in से डाउनलोड कर सकते हैं.

प्लास्टिक आधार के नाम पर वसूले जाते हैं कितने रु

बयान में यह भी कहा गया कि प्‍लास्टिक या पीवीसी शीट पर आधार की प्रिन्टिंग के नाम पर लोगों से 50 रुपये से लेकर 300 रुपये तक वसूले जा रहे हैं. कहीं-कहीं तो इससे भी ज्‍यादा चार्ज लिया जा रहा है. UIDAI ने लोगों से इस तरह की दुकानों या लोगों से बचने की और उनके झांसे में न आने की सलाह दी है.

हर 12 डिजिट का नंबर नहीं होता Aadhaar, UIDAI ने चेताया; ऐसे कर सकते हैं वेरिफाई

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop