सर्वाधिक पढ़ी गईं

Aadhaar Verification: अब ऑफलाइन हो सकेगा आधार सत्यापन, जानें कौन-सी डिटेल्स होगी साझा

Aadhaar Verification: अब आधार को ऑफलाइन तरीके से भी वेरिफाई कर सकते हैं.

Updated: Nov 10, 2021 11:26 AM
Now get Aadhaar verification done offline users get power to revoke eKYC consentअब आधार को ऑफलाइन तरीके से भी वेरिफाई कर सकते हैं. इसके लिए लोगों को भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) द्वारा तैयार किए गए डिजिटली हस्ताक्षरित दस्तावेज को साझा करना होगा.

Aadhaar Verification: अब आधार को ऑफलाइन तरीके से भी वेरिफाई कर सकते हैं. इसके लिए लोगों को भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) द्वारा तैयार किए गए डिजिटली हस्ताक्षरित दस्तावेज को साझा करना होगा. सरकार द्वारा जारी नए नियमों के मुताबिक इस डॉक्यूमेंट में आधार नंबर के सिर्फ आखिरी चार अंक होंगे जो इसके होल्डर्स को जारी किए गए हैं.

आधार (अथेंटिकेशन एंड ऑफलाइन वेरिफिकेशन) रेगुलेशंस 2021 को 8 नवंबर को नोटिफाई किया गया था और इसे आधार नियामक की आधिकारी वेबसाइट पर मंगलवार को पब्लिश किया गया. इसमें ग्राहकों की पहचान को प्रमाणित करने (ई-केवाईसी) की ऑफलाइन प्रक्रिया की विस्तार से जानकारी दी गई है.

Latent View Analytics IPO: लैंटेट व्यू एनालिटिक्स का खुल गया आईपीओ; पैसे लगाएं या नहीं, एक्सपर्ट्स ने दी ये सलाह

अंतिम चार अंक ही होंगे नए हस्तारित दस्तावेज में

आधार नियामक यूआईडीएआई ने ऑनलाइन वेरिफिकेशन के मौजूदा तरीकों के अलावा अब क्यूआर कोड वेरिफिकेशन, आधार पेपरलेस ऑफलाइन ई-केवाईसी वेरिफिकेशन, ई-आधार वेरिफिकेशन, ऑफलाइन पेपर पर आधारित वेरिफिकेशन और अथॉरिटी द्वारा समय-समय पर लाए गए विभिन्न प्रकार के वेरिफिकेशन तरीकों को जोड़ा है. आधार के नए ऑफलाइन वेरिफिकेशन तरीके के तहत आधार नियामक द्वारा डिजिटली हस्ताक्षरित डॉक्यूमेंट दे सकते हैं जिसमें 12 अंकों के आधार नंबर की बजाय इसके आखिरी चार अंक की सामने दिखेंगे. इसके अलावा इस डॉक्यूमेंट में नाम, पता, जेंडर, जन्मतिथि और फोटो जैसी जानकारियां भी रहेगी.

e-KYC डेटा को स्टोर करने से कर सकते हैं मना

नए नियमों के तहत अब आधार धारक किसी भी समय किसी वेरिफिकेशन एजेंसी को अपने ई-केवाईसी डेटा को स्टोर करने की दी गई मंजूरी रद्द कर सकते हैं. इसका मतलब हुआ कि किसी वेरिफिकेशन एजेंसी को ई-केवाईसी डेटा स्टोर करने के लिए जो मंजूरी दी हुई है, उसे किसी भी समय आधार नंबर धारक रद्द कर सकते हैं. नए डिजिटली हस्ताक्षरित डॉक्यूमेंट के जरिए ऑफलाइन वेरिफिकेशन तरीके के अलावा ओटीपी (वन टाइम पिन) और बॉयोमेट्रिक आधार ऑथंटिकेशन के जरिए भी ऑफलाइन तरीके से अपनी पहचान प्रमाणित कर सकते हैं. जिन एजेंसियोों को आधार डेटा वेरिफाई करने के लिए अधिकृत किया गया है, वे इनमें से किसी भी एक विकल्प या एक से अधिक विकल्पों को चुन सकते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. आधार कार्ड
  3. Aadhaar Verification: अब ऑफलाइन हो सकेगा आधार सत्यापन, जानें कौन-सी डिटेल्स होगी साझा
Tags:UIDAI

Go to Top