मुख्य समाचार:
  1. उदय एक्सप्रेस: रेलवे की एक और लक्जरी ट्रेन पटरी पर उतरने को तैयार

उदय एक्सप्रेस: रेलवे की एक और लक्जरी ट्रेन पटरी पर उतरने को तैयार

उदय एक्सप्रेस का ऐलान 2016 के रेल बजट में किया गया था. उदय एक्सप्रेस मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत भारत में तैयार की गई है जिसकी अधिकतम स्पीड 110 किलोमीटर रहेगी.

February 9, 2018 3:32 PM
indian railway, uday express, piyush goyal, indian railways, coimbatore, bangalore, bandra, jamnagar, उदय एक्सप्रेस, भारतीय रेलवे, पीयूष गोयल उदय एक्सप्रेस का ऐलान 2016 के रेल बजट में किया गया था. उदय एक्सप्रेस मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत भारत में तैयार की गई है. उदय एक्सप्रेस की अधिकतम स्पीड 110 किलोमीटर रहेगी.

भारतीय रेलवे तेजस एक्सप्रेस के बाद जल्द ही एक और नई लग्जरी ट्रेन पटरी पर उतारने को तैयार है. यह ट्रेन पूरी तरह से डबल डेकर एसी चेयरकार रहेगी. यह ट्रेन सामान्य से 40 फीसदी अधिक यात्री ले जाने में सक्षम होगी. ट्रेन के एक कोच में 120 सीट रहेगी जिसमें खाने, चाय और कोल्ड ड्रिंक्स के लिए वेंडिंग मशीन की सुविधा होगी. ट्रेन में वाई-फाई, एलसीडी स्क्रीन और बायो टॉयलेट जैसी सुविधाएं दी गई हैं.

सुरक्षा को लेकर 73 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगा रेलवे: पीयूष गोयल

नई डबल डेकर उदय एक्सप्रेस

इस ट्रेन की खासियत यह है कि इसके रूट को इस तरह तैयार किया गया है कि ट्रेन रात भर चलकर सुबह-सुबह गंतव्य (डेस्टिनेशन) को पहुंचा सके. सूत्रों के मुताबिक उदय एक्सप्रेस के लिए अभी तीन रूट तय किए गए हैं. ये तीनों ऐसे रूट हैं, जिन पर यात्रियों की संख्या ज़्यादा होती है और. पहला रूट कोयम्बटूर और बेंगलुरू के बीच का है. कोयम्बटूर और बेंगलुरू के बीच ट्रेन का ट्रायल पूरा हो चुका है और उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही इन दोनों शहरों को उदय एक्सप्रेस जोड़े. इन दोनों शहरों के बीच कारोबार के सिलसिले में बड़ी संख्या में लोगो यात्रा करते हैं. दो और रूट बांद्रा से जामनगर और विशाखपट्टनम से विजयवाड़ा हैं.

राजधानी-शताब्दी को भी पीछे छोड़ देंगी T18 और T20, ये हैं खास फीचर्स

उदय एक्सप्रेस का ऐलान 2016 के रेल बजट में किया गया था. उदय एक्सप्रेस मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत भारत में तैयार की गई है. उदय एक्सप्रेस की अधिकतम स्पीड 110 किलोमीटर रहेगी. कोहरे के दौरान भी यह ट्रेन 75 किलोमीटर के रफ़्तार से चलेगी. मौजूदा स्थिति में कोहरे में ट्रेन को 60 किलोमीटर प्रति घंटे से ज्यादा की रफ़्तार पर नहीं चलाया जा सकता है.

  1. No Comments.

Go to Top