मुख्य समाचार:
  1. भारतीय रेलवे पर इस साल 1.20 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं: पीयूष गोयल

भारतीय रेलवे पर इस साल 1.20 लाख करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं: पीयूष गोयल

लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान अंजू बाला के प्रश्न के उत्तर में रेल मंत्री गोयल ने कहा कि 2009 से 2014 के बीच हर साल औसतन 46 हजार करोड़ रुपए खर्च किया गया है.

January 3, 2018 6:36 PM
loksabha, piyush goyal, indian railway, anju bala, railway fare, railway news, indian railway latest news लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान अंजू बाला के प्रश्न के उत्तर में रेल मंत्री गोयल ने कहा कि 2009 से 2014 के बीच हर साल औसतन 46 हजार करोड़ रुपए खर्च किया गया है. (PTI)

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि सरकार वर्तमान वित्त वर्ष में रेलवे में सुधार और आधुनिकीकरण के लिए 1 लाख 20 हजार करोड़ रुपए खर्च कर रही है. अगले वर्ष और भी ज्यादा पैसे खर्च किए जाएंगे. लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान अंजू बाला के प्रश्न के उत्तर में रेल मंत्री गोयल ने कहा कि 2009 से 2014 के बीच हर साल औसतन 46 हजार करोड़ रुपए खर्च किया गया है. इस साल सरकार ने रेलवे में सुधार और आधुनिकीकरण के लिए 1 लाख 20 हजार करोड़ रुपए की राशि खर्च की जा रही है. उन्होंने कहा कि अगले वर्ष सरकार रेलवे में और भी अधिक राशि खर्च की करेगी.

रेल मंत्री गोयल ने कहा कि कोहरे की समस्या से निपटने के लिए और सुरक्षा बढ़ाने के लिए भारतीय रेल अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रही है. उन्होंने कहा कि रेलवे में सुधार और इसके विकास के लिए पहले के वर्षों में जितना निवेश होना चाहिए था वो नहीं हुआ. ट्रेन किरायों की फ्लैक्सी दर के संदर्भ में मंत्री ने कहा कि फ्लैक्सी दर के शुरू होने से यात्रियों की संख्या में कमी नहीं आई है. इससे किराए में बढ़ोतरी हुई है तो ऑफ सीजन में किराए में कमी भी हुई है.

सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए कुछ दिन पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि सुरक्षा से जुड़े खाली पदों में से आधे पदों को तात्कालिक आधार पर भरने का फैसला किया गया है. गोयल ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों के जवाब में कहा कि ताजा आकलन के अनुसार रेलवे में सुरक्षा से जुड़े स्वीकृत पदों में से करीब 1.3 लाख पद खाली हैं. खाली पदों में से आधे पदों को तत्काल भरे जाने का फैसला किया गया है. गोयल ने कहा कि पहले इन पदों को भरने में एक से दो साल तक का समय लगता था. अब उसको कम कर छह से नौ महीने किया गया है.

  1. No Comments.

Go to Top